राजस्थान में सियासी संकट को देखते हुए लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन ने दिया ये बयान

July 14, 2020 | samvaad365

मध्यप्रदेश: राजस्थान में जारी सियासी संकट पर पूर्व लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन ने मंगलवार को दिया यह बयान कि राजनीति में युवा नेतृत्व की उपेक्षा नहीं होनी चाहिये और भाजपा ने इस विषय में सोचना शुरू कर दिया है।
राजस्थान के राजनीतिक संकट से जुड़े सवाल पर महाजन ने यहां संवाददाताओं से कहा, ”राजस्थान में उनकी वहां सत्तारूढ़ कांग्रेस की अंदरूनी लड़ाई चल रही है, लेकिन यह सोचने का समय आ गया है कि राजनीति में युवा नेतृत्व की उपेक्षा भी नहीं की जानी चाहिये और भाजपा ने यह सोचना शुरू कर दिया है कि युवाओं की अनदेखी नहीं होनी चाहिये।” चुनावी सियासत से संन्यास ले चुकीं 77 वर्षीय भाजपा नेता ने कहा, ”राजनीति में युवाओं को भी अपनी काबिलियत दिखाने का पूरा मौका मिलना चाहिये।” हालांकि पूर्व लोकसभा अध्यक्ष ने राजस्थान में सत्तारूढ़ कांग्रेस के राजनीतिक संकट पर यह कहते हुए सीधी टिप्पणी से इंकार कर दिया कि कांग्रेस का संगठन अपनी आंतरिक दिक्कतों पर खुद ध्यान दे।

यह भी पढ़े: बिहार में कोरोना संक्रमण के मामले में तेजी से वृद्धि होने के कारण 16 से 31 जुलाई तक पूरी तरह से लॉकडाउन, प्रदेश में सख्त रहेंगे नियम

संवाद365/कोमल राजपूत

518870cookie-checkराजस्थान में सियासी संकट को देखते हुए लोकसभा अध्यक्ष सुमित्रा महाजन ने दिया ये बयान
51887

You may also like