नहीं रहे दिग्गज अभिनेता जगदीप, मां के सुनाए एक शेर ने बदल दी थी जगदीप की ज़िंदगी

July 9, 2020 | samvaad365

बॉलीवुड के दिग्गज अभिनेता और कॉमेडियन जगदीप का बुधवार रात निधन हो गया है। 81 साल के जगदीप ने अपने घर पर आखिरी सांस ली। जगदीप अपनी कॉमिक टाइमिंग के लिए जाने जाते थे और एक दौर में उनकी लोकप्रियता फिल्म के मेन लीड एक्टर जितनी ही होती थी। गुरुवार को दक्षिण मुंबई में जगदीप को सुपुर्द-ए-खाक किया जाएगा। जगदीप के पार्थिव शरीर को सुबह बांद्रा स्थित उनके घर से ले जाया गया। जगदीप के निधन से उनके बेटे जावेद जाफरी गम में डूबे हुए हैं। वह अपने पिता को उनकी अंतिम यात्रा पर ले जा रहे हैं। जगदीप ने वर्ष 1951 में फिल्म ‘अफसाना’ से अपनी सिने यात्रा की शुरुआत की थी, जिसके जरिए दिग्गज फिल्म निर्माता बीआर चोपड़ा ने निर्देशन में कदम रखा था। उन्हें इस किरदार के लिए तीन रुपये बतौर मेहनताना दिए जाने का वादा किया गया था लेकिन एक डायलॉग के बाद इस राशि को दोगुना कर दिया गया था।

वहीं जगदीप के निधन के बाद से बॉलीवुड शोक में है, हर कोई उन्हें अपनी तरीके से श्रद्धांजिल दे रहा है। अजय देवगन ने ट्वीट करते हुए लिखा, जगदीप साहब के निधन की दुखद खबर मिली। उन्हें सिनेमा के पर्दे पर देख मैंने हमेशा इंजॉय किया। वे दर्शकों का बहुत मनोरंजन किया करते थे। जावेद और उनके परिवार के साथ मेरी संवेदनाएं हैं। जगदीप साहब की आत्मा के लिए मैं प्रार्थना करता हूं। आपको बता दें कि जगदीप ने अपनी जिंदगी में बहुत मुश्किल समय का सामना किया है लेकिन उन्होंने हर कठिनाई का डटकर सामना किया, उन्होंने कभी हार नहीं मानी।

मां का वो शेर जिसने जगदीप को कभी रुकने नहीं दिया

एक इंटरव्यू में जगदीप ने कहा था कि ”मैंने जिंदगी से बहुत कुछ सीखा है. मेरी मां ने मुझे समझाया था. एक बार बॉम्बे में बहुत तेज तूफान आया था। सब खंभे गिर गए थे। हमें अंधेरी से जाना था। उस तूफान में हम चले जा रहे थे। एक टीन का पतरा आकर गिरा और मेरी मां के पैर में चोट लगी। ‘

‘बहुत खून निकल रहा था। ये देख मैं रोने लगा। तो मेरी मां तुरंत अपनी साड़ी फाड़ी और उसे बांध दिया। तूफान चल रहा था। तो मैंने कहा कि यहीं रुक जाते हैं, ऐसे में कहां जाएंगे। तो उन्होंने एक शेर पढ़ा था। उन्होंने कहा था- ‘वो मंजिल क्या जो आसानी से तय हो वो राह ही क्या जो थककर बैठ जाए। ‘पूरी जिंदगी मुझे ये ही शेर समझ में आता रहा कि वो राह ही क्या जो थककर बैठ जाए। तो अपने एक-एक कदम को एक मंजिल समझ लेना चाहिए। छलांग नहीं लगानी चाहिए, गिर जाओगे।’

गौरतलब हो कि साल 2020 में बॉलीवुड ने अपने कई कीमती सितारों को खो दिया है। जिसमें अभिनेता इरफान खान, ऋषि कपूर, सुशांत सिंह राजपूत, कोरियोग्राफर सरोज खान, संगीतकार वाजिद खान और अब मशहूर एक्टर और कॉमेडियन जगदीप शामिल हैं।

यह खबर भी पढ़ें-देहरादून: जल जीवन मिशन – जन जीवन से जुड़ा महत्वपूर्ण विषय है : सीएम रावत

संवाद365/काजल

516890cookie-checkनहीं रहे दिग्गज अभिनेता जगदीप, मां के सुनाए एक शेर ने बदल दी थी जगदीप की ज़िंदगी
51689

You may also like