देशभक्ति व पति की मोहब्बत व यादों को संजोने महिला सात समुन्दर से पहुँची देवभूमि

December 3, 2018 | samvaad365

टोरंटो कनाडा से एक महिला को ईको पार्क धनोल्टी स्मृति वन धनोल्टी खींच लाया. जी हां करेन अंसारी नाम की ये महिला जिनके पति मन्नू अंसारी का 9नवम्बर 2017 को कैंसर की बीमारी के कारण कनाडा में निधन हो गया था अपने पति की आखिरी इच्छा पूरी करते हुए  21 दिन की कानूनी कार्यवाही पूरी कर डेड बाडी को बिहार में दफनाया व वहां से कब्रिस्तान की की मिट्टी एक थैले में भर धनोल्टी ईको पार्क मे अपने पति की याद मे देवदार के पौधे का रोपण किया।

करेन अंसारी ने कहा कि पति के  निधन के बाद दिसंबर 2017 मे धनोल्टी आयी थी व उस समय धनोल्टी ईको पार्क मे स्मृति वन पौधा रोपण देखा था तो स्मृति वन मे अपने पति की याद मे पेड़ लगाने का भाव मन मे लिए बिहार अपने पति की जन्मभूमि की  मिट्टी लाकर पेड़ लगाकर सुखद अनुभव कर रही हूँ व अपने पति की याद मे वह अपने आँसू नही रोक पाई व भावूक  हो गयी। व ईको पार्क समिति सदस्यों वन क्षेत्राधिकारी  जौनपुर रेंज श्री मनमोहन बिष्ट का धन्यवाद किया व ईको पार्क धनोल्टी के सार्थक प्रयास की सराहना की व हर साल धनोल्टी आने को कहा व अगले वर्ष आकर अलमस के पास पति की स्मृति मे फलदार पौधों के वृक्षारोपण की बात कही।समिति सदस्य कुलदीप नेगी व सुरेश बेलवाल ने कहा कि तीन दिन पहले महिला ने धनोल्टी आकर पेड़ लगाने को कहा किन्तु पार्क मे जगह की उपलब्धता न होने के कारण  स्मृति वन वृक्षारोपण बंद किया गया है व न ही पेड़ की उपलब्धता थी पर महिला के अपने पति की फोटो दिखा देश की माटी की मिट्टी से अपने पति की याद में पेड़ लगाने की भावुक बात सुन नही रहा गया व मगरा नर्स री से रेंज अधिकारी के माध्यम से पेड़ कीव्यवस्था कर अगले दिन मसूरी से दोबारा आकर करेन अंसारी ने पेड़ लगवाया।
इस मौके पर ईको पार्क समिति सचिव तपेन्द्र बेलवाल  कुलदीप नेगी सुरेश बेलवाल बीना कठैत छंचरू दास जसपाल सिंह राजू मलहोत्रा आदि मौजूद थे।

यह ख़बर भी पढ़े- दून अस्पताल के मरीज़ अब ले पाएंगे सरकार की इस योजना का आयुष्मान

यह ख़बर भी पढ़े- टिहरी जनपद के सुमाड़ी गांव में आजादी के 71 साल बाद पहुंची बिजली

धनौल्टी/मुकेश रावत

26463

You may also like