………तो हरक सिंह गिरा देते सरकार

December 5, 2018 | samvaad365

विधानसभा सत्र का तीन दिवसीय सत्र आज सुबह शुरू हो गया जिसके चलते वित्त मंत्री प्रकाश पंत ने 2452.41 करोड़ का अनुपूरक बजट पेश किया तो वहीं राज्य आन्दोलनकारियों को पुलिस ने गिरफ्तार भी किया. जहां आज उत्तराखंड विधानसभा का शीतकालीन सत्र चल रहा है. वहीं सत्र के दौरान सीएम और कैबिनेट के सामने वन मंत्री का ओहदा संभाल रहे हरक सिंह रावत ने एक बार फिर सदन के सामने बड़ा बयान दिया है. वन मंत्री हरक सिंह ने कहा कि उन्होंने नारायण दत्त तिवारी की सरकार गिराने की कोशिश की थी.

गौर हो कि वन मंत्री हरक सिंह रावत का विवादों से चोली- दामन का साथ रहा है. वहीं शीतकालीन सत्र के दौरान हरक सिंह रावत के बयान से सब सकते में आ गए. वन मंत्री हरक सिंह रावत ने कहा कि नारायण दत्त तिवारी सरकार को गिराने के लिए 28 विधायक उनके संपर्क में थे. जिसके लिए भाजपा नेता भगत सिंह कोश्यारी से बात हो गई थी, बीजेपी के साथ मिलकर नई सरकार बनाने की पूरी तैयारी थी.

ये बात उन्होंने आज चल रहे शीतकालीन सत्र के दौरान एन डी तिवारी के लिए शोक संदेश पढ़ते हुए कही. इस दौरान सीएम के साथ ही पूरा कैबिनेट मौजूद था. बता दें कि 2003 में एनडी तिवारी सरकार में हरक सिंह रावत मंत्री रह चुके हैं. लेकिन वहां एक विवाद से उन्हें मंत्री पद से हाथ धोना पड़ा था.

यह ख़बर भी पढ़े- विधानसभा के चलते वित्त मंत्री प्रकाश पंत ने खोला अपना पिटारा,जानें कितने का बजट हुआ पेश

यह ख़बर भी पढ़े- विस सत्र के दौरान निकले राज्य आंदोलनकारियों को पुलिस ने किया गिरफ्तार

देहरादून/संध्या सेमवाल

26662

You may also like