चमोली: सड़क निर्माण में अनियमितता का आरोप, ग्रामीणों ने दी काम रोकने की चेतावनी

August 5, 2020 | samvaad365

चमोली: नारायणबगड-परखाल-चोपता मोटर मार्ग के सुधारीकरण निर्माण में भारी अननियमिताएं सामने आ रही हैं। जिसके बाद स्थानीय लोगों और जनप्रतिनिधियों ने कार्य ठप्प करने की चेतावनी भी दी है। सड़क सुधारीकरण के नाम पर सरकारी धन का किस तरह द्रुप्रयोग किया जा रहा है. इसकी बानगी देखनी है तो चले आइए नारायणबगड़-परखाल-चोपता मोटर मार्ग पर। यहां पीएमजीएसवाई के ठेकेदार द्वारा सडक़ सुधारीकरण के कार्य में बालू के स्थान पर धड़ल्ले से मिट्टी को सीमेंट में मिलाकर निर्माण किया जा रहा है।

इस क्षेत्र के स्थानीय लोगों और जनप्रतिनिधियों की ओर से बार बार पीएमजीएसवाई से और उसके प्रतिनिधियों से कई बार के मौखिक व लिखित शिकायतें तो की गई। लेकिन लोगों का कहना है कि इसका कोई असर नहीं हुआ। इसके बाद लोगों ने सडक सुधारीकरण के कार्य मे गुणवत्तापूर्ण काम नहीं होने पर काम रोकने की चेतावनी भी दी है। लोगों के मुताबिक मोटर मार्ग सुधारिकरण के शुरूवाती दौर में नारायणबगड के पास पिण्डर नदी में धड़ल्ले से मलवा फेंकने और डंपिंग जोन का प्रयोग न करने का भी आरोप कंपनी पर लगाए गए थे।

वहीं पीएमजीएसवाई के साइट इंचार्ज सहायक अभियंता नीरज काण्डपाल ने कहा कि लोगों की नारायणबगड.परखाल-चोपता मोटर मार्ग पर विभिन्न प्रकार की शिकायतें आ रही हैंं। उन्होंने कहा कि हालांकि लोकल डस्ट को प्रयोग म़े लाया जा सकता है. पर फिर भी लगातार शिकायतों पर गुणवत्ता परक सडक निर्माण मे  समाधान के लिए साइट पर जाकर सीमेंट रेता व मिट्टी के सैंपल लिए जाएंगे तथा उनकी जांच की जायेगी।

https://youtu.be/T0cP_rqSD2k

यह खबर भी पढ़ें-चमोली: राम जन्म भूमि पूजन पर सुंदरकांड का पाठ, जिले में लोग मना रहे खुशी

संवाद365/पुष्कर नेगी

527570cookie-checkचमोली: सड़क निर्माण में अनियमितता का आरोप, ग्रामीणों ने दी काम रोकने की चेतावनी
52757

You may also like