24 सूत्रीय मांगों को लेकर मुन्यारी के ग्रामीणों ने किया प्रदर्शन

December 7, 2018 | samvaad365

24 सूत्रीय मांगों को लेकर विकासखण्ड मुनस्यारी के ग्राणीण जिलाधिकारी से मिलने पिथौरागढ़ मुख्यालय पहुंचे। इस दौरान ग्रामीणों ने आपदा प्रभावितों को तत्काल मुआवजा देने और आपदा राहत कार्यों को पूरा करने के साथ ही क्षेत्र की विभिन्न मूलभूत समस्याओं को लेकर जोरदार प्रदर्शन किया। प्रदर्शनकारी ग्रामीणों का कहना है कि दो माह पूर्व उन्होंने जिलाधिकारी को अपनी समस्या से अवगत कराया था। मगर आज तक उस पर कोई काम नहीं हुआ।

मुनस्यारी विकासखण्ड से आये ग्रामीणों ने पिथौरागढ़ मुख्यालय में अपनी 24 सूत्रीय मांगो को लेकर प्रदर्शन किया। प्रदर्शनकारियों ने फर्वेकोट-गोल्फा मोटरमार्ग, मदकोट-झापुली मोटरमार्ग, झापुली-तोमिक मोटरमार्ग, झापुली-बोना मोटरमार्ग, खसियाबाड़ा-ढिमढिमिया मोटरमार्ग, मदकोट-बसंतकोट मोटरमार्ग, जोशा- गांधीनगर मोटरमार्ग, बंगापानी-आलम दारमा मोटरमार्ग के निर्माण में तेजी लाने और मानकों के अनुरूप कार्य करने की मांग की।

साथ ही प्रदर्शकारियों ने आपदा के बाद क्षेत्र में धवस्त हुई पेयजल योजनाओं और पुलों के जल्द निर्माण करने की भी मांग की। वहीं प्रदर्शनकारियों का ये भी कहना है कि दो जुलाई को मुनस्यारी में आयी आपदा के बाद मुख्यमंत्री त्रिवेन्द्र रावत ने घोषणा की थी कि पूर्ण रूप से ध्वस्त मकानों के लिए एक लाख मुआवजा दिया जाएगा जो आज तक आपदा प्रभावितों को नहीं मिला है। प्रदर्शनकारियों ने बेघर हो चुके आपदा प्रभावितों को जल्द से जल्द मुआवजा देने की भी मांग की।

यह खबर भी पढ़ें-दून अस्पताल से गायब हुए संत गोपालदास, गंगा रक्षा को लेकर कर रहे थे अनशन

यह खबर भी पढ़ें- देवभूमि में जारी है फिल्म केदारनाथ का विरोध, फिल्म को बैन करने की मांग

पिथौरागढ़/मनोज चंद

26840

You may also like