आज है उत्तराखंड के गांधी इंद्रमणि बडोनी की पुण्य तिथि

August 18, 2020 | samvaad365

उत्तराखंड के गांधी के नाम से जाने जाने वाले स्व इंद्रमणि बडोनी का जन्म 24 दिसंबर 1925 को तत्कालीन टिहरी रियासत के अखोड़ी गांव में हुआ था। बडोनी ने प्रारंभिक शिक्षा गांव से ही ली जबकि माध्यमिक और उच्च शिक्षा नैनीताल और देहरादून से। देहरादून के डीएवी से स्नातक करने के बाद वो रोजगार के लिए बंबई चले गए। लेकिन खराब स्वास्थ्य के चलते उन्हे वापस पहाड़ लौटना पड़ा। उसके बाद उन्होंने अखोड़ी गांव और जखोली ब्लॉक को ही अपना कार्यक्षेत्र बना लिया। बडोनी गांव के उत्थान और समाजसेवा के कामों में तभी से जुट गए थे। साल 1961 में वो ग्राम प्रधान बने और उसके बाद जखोली के ब्लॉक प्रमुख, उत्तर प्रदेश में तीन बार देवप्रयाग का प्रतिनिधित्व किया, 1977 में निर्दलीय चुनाव लड़कर कांग्रेस और जनता पार्टी की जमानत जब्त करवा दी। इसके अलावा वो पर्वतीय विकास परिषद के उपाध्यक्ष रहे, सबसे ज्यादा विद्यालयों का उच्चीकरण उन्हीं के दौर में हुआ।

बडोनी को अपनी संस्कृति और प्रकृति से बेहद लगाव था। खतलिंग ग्लेशियर, सहस्त्रताल को भी सर्वप्रथम उन्होंने ही एक्सप्लोर किया था। इसके अलावा  मलेथा की गूल, माधो सिंह भंडारी के मंचन भी सर्वप्रथम उन्होंने ही दिल्ली, बंबई में करवाए। बताया जाता है कि दिल्ली में पांडव नृत्य को देखकर पंडित नेहरू भावविभोर हो गए थे। 1980 में बडोनी यूकेडी के सदस्य बन गए। 1988 में तवाघाट पिथौरागढ़ से देहरादून तक 105 दिनों में 2000 किमोमीटर की यात्रा की दो हजार गांवों और शहरों को छुआ जिससे पृथक राज्य की अवधारणा को घर घर पहुंचाया।

बडोनी साल 1994 के आंदोलन के सूत्रधार थे। पौड़ी मेंं अनशन किया उन्हें जबरन मेरठ अस्पताल में भर्ती करवाया गया। जनता के दबाव पर अनशन खत्म किया। लेकिन तब तक आंदोलन तेज हो चला था। बीबीसी ने कहा था यदि यदि आप चलते फिरते गांधी को देखना चाहते हैं तो उत्तराखंड की धरती पर चले जाएं। 1994 से 99 तक बडोनी आंदोलन मे जुटे रहे, इसी दौरान वो वृद्ध और बीमार भी पड गए, और अंततः 18 अगस्त 1999 को  इंद्रमणि बडोनी का निधन हो गया।

इंद्रमणि बडोनी के आदर्श और उनके बलिदान को आज भी याद किया जाता है। संवाद 365 इंद्रमणि बडोनी को शत शत नमन करता है।

(संवाद 365/डेस्क)

 

 

यह भी पढ़ें-गृह मंत्री अमित शाह एम्स में भर्ती, कुछ दिन पहले कोरोना से हुए थे रिकवर

532750cookie-checkआज है उत्तराखंड के गांधी इंद्रमणि बडोनी की पुण्य तिथि
53275

You may also like